हमारे परिसर

उत्‍पादन संयंत्र

पास्‍ता उत्‍पादन संयंत्र को किल्किस औद्योगिक क्षेत्र में 1997 में निर्मित किया गया था। इसने 1998 में काम करना शुरू किया। लंबे पास्‍ता के लिए 2 और छोटे पास्‍ता के लिए 2, लगातार काम करने वाली चार उत्‍पादन लाइनों की बदौलत, यह यूरोप में तकनीकी रूप से सबसे उन्‍नत किस्‍म का पास्‍ता उत्‍पादन परिसर है। इसकी कुल वार्षिक उत्‍पादन क्षमता 72,000 टन पास्‍ता की है। अत्‍याधुनिक उत्‍पादन लाइन द्वारा युनानी और विदेशी बाजारों के लिए उच्‍च गुणवत्ता वाले पास्‍ता का उत्‍पादन किया जाता है। कंपनी ने उत्‍पादन लागतों में कमी लाते हुए उत्‍पादन और पैकिंग के काम में पूर्ण स्‍वचालन (फुल ऑटोमेशन) लाने के लिए महत्‍वपूर्ण रूप से निवेश किया है।



मिल (पिसाई चक्‍की)

सितंबर 2006 में, डुरम गेंहू से सेमोलिना निर्मित करने के लिए हमारी पूरी तरह से स्‍वचालित, अत्‍याधुनिक मिल (पिसाई चक्‍की) में काम आरंभ हुआ। इस मिल की दैनिक क्षमता 260 टन है जो कच्‍ची सामग्री हेतु हमारे उत्‍पादन संयंत्र की सभी जरूरतों को पूरा करने के लिए पर्याप्‍त है। इस मिल को यूरीमैक का सबसे महत्‍वपूर्ण निवेश माना जाता है जो बेहतरीन पास्‍ता के लिए जरूरी उच्‍च गुणवत्ता के सेमोलिना का उत्‍पादन करती है।


गोदाम

सितंबर 2010 में, 9,500 पेलेट (भंडारण अलमारी) की जगह वाले नये, अत्‍याधुनिक, स्‍वचालित गोदाम का निर्माण हुआ (9,200 टन स्‍टॉक) जिसे फीफो आधार पर इलेक्‍ट्रॉनिक तरीके से नियंत्रित किया जाता है। इस परिसर में 8 कंटेनर ट्रक पर एक साथ लदाई करना संभव है।


सुपरहीटेड वाटर बॉइलर

अप्रैल 2013 में, डेवलपमेंट लॉ 3908/11 की सहायता के अंतर्गत, एक अत्‍याधुनिक सुपरहीटेड वाटर बॉइलर (8000,000 kcal/hr) का निर्माण पूरा हुआ, जो हेलेस्‍त्रा, थेसालोनिकी में अंशधारकों (EURICOM) के स्‍वामित्‍व वाले चावल पिसाई संयंत्र से मिलने वाली चावल की भूसी के ईंधन से संचालित होता है। पर्यावरण के स्‍वाभाविक लाभ के अलावा, कंपनी को इस नये बॉइलर के उपयोग से महत्‍वपूर्ण आर्थिक बचत का फायदा भी पहुंचेगा।